सूरत के कोट इलाके में चार मंजिला इमारत ढ़ही

सूरत के कोट इलाके में सबसे ज्यादा जर्जर मकान है। सूरत महानगरपालिका के बार-बार नोटिस थमाने के बावजूद इमारतों की मरम्मत नहीं की जाती है। जिसके कारण आज सेंट्रल जोन के कोट इलाके में सालों पुरानी चार मंजिला इमारत धराशायीï हो गई। घटना की सूचना मिलते ही दमकल दस्ता मौके पर पहुंचा और अंदर फंसे एक बच्चे को बाहर निकाला। बच्चा घायल होने से उसे अस्पताल में भर्ती किया गया है। इस घटना में जानहानि टल गई।

सूरत का पुराना इलाका कहे जाने वाले कोट क्षेत्र में सबसे ज्यादा जर्जर मकान हैं। जिससे मकान गिरने का डर हमेशा बना रहता है। महानगरपालिका ने ऐस जर्जर मकानों को नोटिस भेजी है, लेकिन उचित कार्रवाई नहीं किए जाने से ऐसी घटनाएं घटती रहती है। गोलवाड इलाके में एक चार मंजिला इमारत अचानक ढ़ह गई। बिल्डिंग के एक तरफ का हिस्सा बैठ जाने से आसपास के लोगों में डर का माहौल पैदा हो गया।

घटना की सूचना सूरत दमकल विभाग को मिलते ही घटना स्थल पर पहुंच गए। दमकल के साथ पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। दमकल ने तत्काल कार्यवाही करते हुए अंदर दबे एक बच्चे को बाहर निकाला। दमकल विभाग ने कहा कि बच्चे को चोटे आयी हैï। उसे इलाज के लिए अस्पताल भर्ती किया है। वहीं घटना की सूचना मिलने पर सूरत की मेयर हेमाली बोघावाला भी फायर व पुलिस विभाग के साथ मौके पर पहुंच गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *