विधायक का अजीबो गरीब तर्क: मैं रोजाना 4 बाजरे की रोटी खाता हूं, मुझे कोरोना नहीं होगा

देश में फिर से कोरोना की लहर दिखायी देने लगी है। जिससे अलग-अलग राज्यों की सरकार चितिंत है। कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए सरकार कदम उठा रही है। लेकिन कुछ जनप्रतिनिधियों द्वारा कोरोना गाइउलाइंस का सरेआम उल्लंघन किए जाने के मामले सामने आ रहे है। राजनेताओं द्वारा मास्क, सोशल डिस्टेसिंग सहित नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। अगर जनप्रतिनिधि ही बनाए गए नियमों का पालन नहीं करेंगे तो लोगों से कैसे उम्मीद रख सकते है।

मध्यप्रदेश में विधानसभा बजट सत्र का सोमवार से प्रारंभ हुआ। इस बीच विधायक कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करते हुए दिखायी दिए। इतना ही नहीं जब विधायकजी से इसके बारे में पूछा गया तो उनके द्वारा दिया गया जवाब सूनकर हंसे या रोये। मध्यप्रदेश के सबलगढ़ क्षेत्र के विधायक बैजनाथ कुशवाह ने कहा कि मैं रोजाना 4 बाजरे की रोटी खाता हूं, इसलिए मुझे कोरोना नहीं होगा।

गौरतलब है कि देश में अन्य राज्य सहित मध्यप्रदेश में भी कोरोना के मामले दिनोंदिन बढ़ते जा रहे है। इसलिए मध्यप्रदेश सरकार ने नए दिशा निर्देश भी जारी किए है। लेकिन विधानसभा में जनप्रतिनिधियों द्वारा ही कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं किया जा रहा है। अगर नेता ही अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे तो हम दूसरे से क्या उम्मीद रख सकते है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *