सायरा का युवक सार्वजनिक स्थानों पर मुकजुबांन पक्षियों के लिए परिंडे लगाकर कर रहा सेवा का कार्य

उदयपुर, (कांतिलाल मांडोत) समाज सेवा से बड़ा पुण्य कार्य कोई नही है। समाज सेवा अगर नि:स्वार्थ भाव से की जाए तो मानवता का कर्तव्य सही मायनो में निभाया जा सकता है। सेवा के लिए धन कि आवश्यकता नही है। कई तरह की सेवा देकर समाज में मूकाम बनाया जा सकता है। ऐसा ही शख्स गोगुंदा तहसील के उपतहसील सायरा के ब्राह्मणों का कलवाना का रहने वाला सामाजिक कार्यकर्ता पेंटर अशोककुमार भाटी मुकजुबांन पक्षी के परिंडे बनाकर सायरा और आसपास के गांवो में लगा रहा है। डिब्बे को काटकर अबोल पक्षियों के लिए परिंडे बनाकर चौराहा और अन्य गांवों में लगाकर सेवा दे रहा है।

सायरा में पुलिस थाना,राजकीय अस्पताल, बालिका विद्यालय, गेघट, आयुर्वेदिक चिकित्सालय, झालो का कलवाना इत्यादी सार्वजनिक स्थानों पर परिंडे लगाए गए है। बढ़ती गर्मी के कारण पक्षियों के गले सूखे रहते है। दूर दूर पानी नही मिलने के कारण पक्षी दम तोड़ देते है। मानव के साथ प्राणियों को पानी की आवश्यकता होती है।

आम जनता को भी भगीरथ और पुण्य कार्य करने की भाटी सलाह दे रहे है। देखा जाए तो चिडिय़ा की प्रजाति लुप्त हो गई है। अशोककुमार भाटी ने बताया कि गर्मी में पक्षियों के दाना पानी की व्यवस्था करने और दाना की किल्लत दूर करने के लिए अहम योगदान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *