सूरत में एक्सपायरी डेट के रेमडेसिविर बेचने के मामले में पूर्व भाजपा पार्षद का बेटा सहित दो जन गिरफ्तार

कोरोना संक्रमित मरीज के परिजनों को एक्सपायरी डेट रेमडेसिविर इंजेक्शन की बिक्री के मामले में दो जनों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों में से एक पूर्व भाजपा पार्षद का बेटा बताया जाता है। सरथाणा इलाके में रहनेवाले जिग्ïनेश पटेल मामा के लडक़े के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए दिव्येश संजय पटेल का सम्पर्क किया था। दिव्येश पटेल को प्रति इंजेक्शन 7,000 रुपये का भुगतान किया गया। डॉक्टर ने इंजेक्शन एक्सपायरी डेट के होने की बात कहने पर उसी दिन वनिता विश्राम गांव के पास जिग्नेश को बुलाया और इंजेक्शन वापस कर दिया। पूरी घटना की जांच करते हुए क्राइम ब्रांच ने दिव्येश पटेल को गिरफ्तार किया।

क्राइम ब्रांच ने दिव्येश पटेल से पूछताछ में पता चला कि इंजेक्शन पी. संघवी अस्पताल के मेडिकल स्टोर के हेड ऑफ डिपार्टमेंट के विशाल अवस्थी से 5,400 रुपये में खरीदे थे। विशाल अवस्थी के पास एक साल से इस इंजेक्शन का स्टॉक था।

दिव्येश पटेल भारतीय जनता पार्टी की पूर्व पार्षद साधना पटेल का पुत्र है। पुलिस पूछताछ के दौरान दिव्येश से आठ अन्य इंजेक्शन मिले थे। उसे ये इंजेक्शन कहां से मिले इसको लेकर पूछताछ की जा रही है। साथ ही किस मरीज के परिजनों को उसने अब तक इंजेक्शन दिए हैं इसकी भी जांच शुरू की गई है। रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी के बारे में बड़े खुलासे हो सकते हैं।

पुलिस ने दिव्येश पटेल और विशाल अवस्थी को गिरफ्तार किया है। अदालत ने दिव्येश को अदालत में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया है और विशाल अवस्थी को आज अदालत में पेश कर रिमांड मांगा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

konya escort