जीएसटी प्रावधानों के ख़िलाफ़ कैट के 26 फ़रवरी के भारत व्यापार बंद पर युद्ध स्तर की तैयारियाँ शुरू

कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा आगामी 26 फ़रवरी को जीएसटी कर प्रणाली के विकृत स्वरूप के ख़िलाफ़ आयोजित होने वाले भारत व्यापार बंद को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए देश भर के 40 हज़ार से ज़्यादा व्यापारिक संगठनों ने पूरी तरह से कमर कस ली है और इस सिलसिले में कैट के राष्ट्रीय नेताओं में विभिन्न राज्यों में तूफ़ानी दौरों का कार्यक्रम बन गया है ।
कैट द्वारा आज एक वक्तव्य में कहा गया है की कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष  बी सी भरतिया को उत्तर प्रदेश और दिल्ली की ज़िम्मेदारी दी गई हैं वहीं कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, अंडमान एवं निकोबार , राजस्थान में भारत बंद को सुनिशचित करेंगे । कैट के चैएरमन  महेन्द्र शाह और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  घनश्याम भाटी दक्षिण भारत के छह राज्यों में भारत बंद को सफल बनाने के लिए जुटेंगे वहीं कैट के राष्ट्रीय वाइस चेयरमैन श्री ब्रिजमोहन अग्रवाल उड़ीसा, झारखंड, बिहार एवं छत्तीसगढ़ में बंद क़ी गतिविधियों को तेज करेंगे ।
कैट के राष्ट्रीय मंत्री  सुमित अग्रवाल पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ में बंद को सफल बनाएँगे वहीं कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  धैर्यशील पाटिल उत्तराखंड एवं हिमाचल प्रदेश को देखेंगे वहीं कैट के अन्य राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  नीरज आनंद जम्मू, कश्मीर, ले एवं लद्दाख़ में भारत बंद को सफल बनाएँगे । यह सभी नेता आगामी 14 फ़रवरी से 23 फ़रवरी तक देश भर के सभी राज्यों का तूफ़ानी दौरा करेंगे और जीएसटी में बेतुके प्रावधानों पर जनमत जाग्रत कर भारत व्यापार बंद को सफल बनाएँगे ।
 कैट गुजरात चेप्टर के अध्यक्ष प्रमोद भगत ने कहा कि इस भारत व्यापार बंद को सफल बनाने के लिए कैट ने टैक्स प्रैक्टिशनरों, चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, कर सलाहाकार, कंपनी सेक्रेटरी, लघु उद्योग,  पेट्रोल पम्प ,डायरेक्ट सेलिंग, महिला संगठनों, उपभोक्ताओं, हॉकर्स, फिल्म उद्योग, फ़ूड प्रोसेसिंग, मोबाइल उद्योग, विभिन्न सेवा प्रदाताओं, ऑनलाइन विक्रेता एवं अर्थव्यवस्था तथा व्यापार से जुड़े सभी राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय संगठनों को भी इस बंद में शामिल होने हेतु संपर्क करने का अभियान तेज किया है जिसकी अगुवाई कैट के राष्ट्रीय महामंत्री  प्रवीन खंडेलवाल कर रहे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *