महाराष्ट्र से सूरत आने वाली बसों पर लगा प्रतिबंध

शहर में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण प्रशासन ने महाराष्ट्र से आनेवाली निजी बसों पर प्रतिबंध लगा दिया है। हालांकि सरकारी बसें एक सप्ताह पहले बंद कर दी गई थी। अब निजी बसें बंद करने का फैसना किया है। यदि किसी ने आदेश का उल्लंघन किया तो जिला प्रशासन कार्यवाही करेगा। गौरतलब है कि गत शनिवार पलसाणा में महाराष्ट्र से आई बस में 50 से अधिक कोरोना के मरीज मिले थे।

महाराष्ट्र में कोरोना के केस तेज़ी से बढ़ रहे है। प्रतिदिन 25000 से अधिक मामले दर्ज हो रहे हैं। महाराष्ट्र में अस्पताल भरे पड़े होने के कारण सूरत में बड़ी संख्या में मरीज आ रहे हैं। पलसाना के पास शनिवार को मनपा के अधिकारियों ने 1 बस की जाँच करने पर 50 से अधिक कोरोना कोरोना संक्रमित मिले।

प्रशासन ने अनावश्यक महाराष्ट्र जाना टालने की अपील की है। वहीं महाराष्ट्र से सूरत आने वालों निजी बसों को रोकने को कहा है। फिलहाल लोग निजी बसों और टू व्हीलर की ओर से महाराष्ट्र से आ-जा रहे हैं। लेकिन जल्दी से जल्दी इसे बंद कर देने की सूचना दे दी गई है। प्रशासन ने आगामी 10 दिनों तक महाराष्ट्र से बस नहीं आने और नही जाने की सूचना दी है।

महाराष्ट्र से सूरत रोजाना 100 से ज्यादा बसेस आती है

सूरत में महाराष्ट्र से रोजाना 100 से ज्यादा बस आती है। सभ्ी बसों में अब अनिवार्य आरटीपीसीआर रिपोर्ट लिया जाएगा। यात्री के पास रिपोर्ट नहीं होगा तो उसे प्रवेश नहीं दिया जाएगा। लेकिन महाराष्ट्र और सूरत की सीमा पर कम चेकपोस्ट कार्यरत होने का सामने आया है। अन्य चेकपोस्टों पर महाराष्ट्र से आना-जाना शुरू है।

रेलवे और बस स्टेशन पर टीम तैनात

महाराष्ट्र के मरीज सूरत आने से रेलवे स्टेशन- बस स्टेशन पर आने वाले मुसाफिरों के लिए टीम तैनात की है। आरटीपीसीआर टेस्ट नहीं हो तो सीधे पुलिस शिकायत करने का आदेश दिया है। मुसाफिरों का रिपोर्ट चेक करके नहीं होने पर कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *