राज्य सरकार और मनपा की नीति का आप ने सड़कों पर भीख मांगकर किया विरोध

कोरोना का उद्योग-धंधे पर गहरा असर पड़ा है। आज कोरोना संक्रमण के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। आम आदमी पार्टी ने राज्य सरकार और निगम द्वारा लिए जा रहे फैसले का लोगों के बीच जाकर विरोध करना शुरू कर दिया है। आम आदमी पार्टी के नगरसेवक और पदाधिकारी सूरत के घोडदौड रोड इलाके में इक_ा हुए और भीख मांगकर विरोध प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी के नेताओं को सूरत के पॉश इलाके में भीख मांगते हुए देखकर लोग आश्चर्यचकित हो गए।

आप कार्यकर्ताओं का कहना है कि सरकार की नीति के कारण व्यापारी, दुकानदार सहित लोगों का रोजगार छीन गया है। जिससे सरकार की आंख खोलने के लिए विरोध प्रदर्शन किया गया।

राज्य सरकार और सूरत निगम के प्रशासन कोरोना संक्रमण को रोकने में विफल रहने का आरोप आप ने लगाया। कपड़ा और हीरा उद्योग एक बार फिर दो दिनों के लिए बंद कर दिए गए क्योंकि शहर में कोरो के लिए संक्रमण बढ़ गया। विभिन्न रेस्तरां बंद होने के साथ-साथ शहर के जिम, सिनेमा, व्यापारियों और श्रमिकों की आय पर बड़ा प्रभाव डाल रहे हैं। व्यापार-धंधा बंद होने से बेरोजगारी का बड़ा सवाल बनकर सामने आ रहा है। लोगों को अपना घर चलाना मुश्किल हो रहा है।

निगम के अधिकारी गलत तरीके से लोगों पर करोड़ों रुपये का जुर्माना लगा रहे हैं। आज कोरोना संक्रमण के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। दूसरी ओर जो प्रशासन कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में विफल रहा है, वह हजारों रुपये के भारी जुर्माना लगाकर लोगों को परेशान कर रहा है। उस समय आम आदमी पार्टी ने सूरत के पॉश इलाके में भीख मांगने का कार्यक्रम आयोजित करके सभी को चौंका दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *