सूरत में कोरोना का तांडव: नए 1152 मामले, 16 जनों की मौत

सूरत में कोरोना का कहर यथावत है। शनिवार को शहर में कुल 16 मौतें हुई हैं, आधिकारिक तौर पर 15 शहर में और जिले में 1 मौत हुई है। अब तक कुल 1265 लोगों की जान जा चुकी है। शहर में कुल 913 नए मामले दर्ज किए गए हैं और जिले में 239 हैं। शहर में 620 और 141 ग्रामीण क्षेत्रों से कुल 761 रोगियों को छुट्टी दी गई।

अभी तक शहर तथा ग्रामीण क्षेत्र से कुल 73499 मरीज कोरोना संक्रमित दर्ज हुए है और 67203 मरीज अस्पताल से स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। शनिवार को सूरत शहर में नए 913 मरीजों के साथ कुल संक्रमितों की संख्या 56641 पर पहुंच गई है। शनिवार को नए 913 कोरोना संक्रमित मरीजों में से शहर में सबसे अधिक मरीज अठवा जोन से 155, रांदेर जोन से 143, लिंबायत जोन से 96, कतारगाम जोन से 100, सेन्ट्रल जोन से 118, वराछा-ए जोन से 107, वराछा-बी जोन से 97 और उधना जोन से 97 नए मरीजों का समावेश है।

जोन वाईज संक्रमित मरीजों के बारे में बात करें तो सबसे अधिक मरीज अठवा जोन में 11634 कोरोना संक्रमित मरीज है, रांदेर जोन में 9069, कतारगाम जोन में 8177, लिंबायत जोन में 5921, वराछा-ए जोन में 5854, सेन्ट्रल जोन में 5563, वराछा बी जोन में 5256 और सबसे कम उधना जोन में 5167 कोरोना संक्रमित मरीज दर्ज हुए है।

भाजपा कार्यालय के आगे रेमेडिसिविर इंजेक्शन के लिए लगी लंबी कतारें

गौरतलब है कि शहर में रेमेडिसिवीर इंजेक्शन की कमी के कारण हालत बिगड़ गई थी। जिसके कारण सूरत में गुवाहाटी से विशेष विमान के माध्यम से 10 हजार रेमेडिसिविर इंजेक्शन मंगाना पड़ा। वहीं भाजपा के कार्यालय से 900 रेमेडिििसवर इंजेक्शन बांटे गए। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के घर के आगे इंजेक्शन दो नहीं तो इस्तीफो दो के नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *