बोर्ड ऑफ स्टडीज के अध्यक्ष बने जय छैरा

बोर्ड ऑफ स्टडीज सीए में अध्ययनरत छात्रों के लिए कार्य करता है

सूरत शहर के सीए जय छैरा की बोर्ड ऑफ स्टडीज के अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति की गई है। इस अवसर पर बोलते हुए जय छैरा ने कहा कि वह सीए फिल्ड में सेंट्रल काउंसिल मेम्बर राष्ट्रीय कारोबारी के मेम्बर है। इसके अलावा अब उनकी बोर्ड ऑफ स्टडी के चेयरमेन पद पर नियुक्ति की गई है। बोर्ड ऑफ स्टडी सीए और छात्र दोनों प्रश्नों के लिए काम करता है। बोर्ड ऑफ स्टडी का मूल उद्देश्य सीए छात्रों के लिए कार्य करना है।

उन्होने कहा कि सीए के अध्ययन में लंबे और अल्पकालिक बदलाव किए जा रहे हैं, पाठ्यपुस्तकों में त्रुटियों का सुधार, अध्ययन सामग्री सेट और एमसीक्यू और प्रश्न बैंक की तैयारी। छात्रों के लिए बोर्ड ऑफ स्टडीज बहुत उपयोगी होगा।

सीए के छात्रों के हितों के बारे में सूचित करने के अलावा जय छैरा ने अपने लक्ष्य के बारे में विस्तृत जानकारी भी दी और कहा कि उनकी अगली दृष्टि एक केस स्टडी बैंक तैयार करने में है। जिसके माध्यम से छात्र ऑनलाइन अध्ययन कर सकते हैं, व्याख्यान और अन्य महत्वपूर्ण कार्य भी अध्ययन बोर्ड के माध्यम से कवर किए जाते हैं।

छात्रों को 100 करोड़ की धनराशि आवंटित की गई

सीए का अध्ययन अन्य अध्ययनों के शुल्क स्तर की तुलना में बहुत सस्ता है। हालांकि पिछले साल छात्रों को राहत के रूप में जरूरतमंद छात्रों के लिए 100 करोड़ रुपये का एक कोष आवंटित किया गया था। इसके लिए एक पोर्टल भी तैयार की थी। जिससेï छात्रों को वित्तीय मदद भी मिले।

इस फंड का लाभ सीए के छात्रों ने भी उठाया। सीए जय छैरा ने छात्रों के लिए 100 करोड़ रुपये की बड़ी राशि के लिए भी प्रयास किए, जिसमें वे सफल भी रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *