धर्म- समाज

अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए करें ईश्वर की आराधना–दंडी स्वामी विनोदानंद सरस्वती

जौनपुर (बदलापुर) l अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए ईश्वर की आराधना करने वाला व्यक्ति मोक्ष को प्राप्त करता है। दैनिक जागरण के पत्रकार सुनील चतुर्वेदी के विद्यालय श्री उमा वैजयंती पब्लिक स्कूल शाहपुर के प्रांगण में चल रही श्रीमद्भागवत महापुराण कथा के दूसरे दिन भक्तों को संबोधित करते हुए बद्रिकाश्रम हिमालय के दंडी स्वामी विनोद आनंद सरस्वती जी महाराज उपरोक्त बातें कही।

उन्होंने कहा कि हम सभी ईश्वर की संतान हैं। इसलिए हम सभी को मिलजुल कर प्रेम और सद्भावना के साथ समाज और राष्ट्र का विकास करना चाहिए। 13 जून से प्रारंभ कथा का समापन 19 जून को होगा। 20 जून को महाप्रसाद (भंडारा ) का आयोजन किया गया है। प्रतिदिन शाम 4 बजे से 7 बजे तक आयोजित कथा में महिला और पुरुष भक्तों की भारी भीड़ दिखाई दे रही है।

दूसरे दिन की कथा में उपस्थित रहने वाले प्रमुख लोगों में कमला प्रसाद तिवारी, मुंबई के वरिष्ठ पत्रकार शिवपूजन पांडे, जयशंकर दूबे, उमेशचंद्र मिश्र, हौंसिला प्रसाद उपाध्याय, रामजियावन तिवारी, लालसाहब पाठक, अंबिका उपाध्याय, डा. अशेष उपाध्याय, संजय तिवारी राजेश मिश्रा,प्रमोद यादव, हृदयप्रकाश तिवारी , दयाशंकर तिवारी,इंटेलीजेंस ब्यूरो प्रमुख जौनपुर गौरव सिंह,दैनिक जागरण जौनपुर के छायाकार अजीत चक्रवर्ती आदि गणमान्य लोगों का समावेश रहा।

कार्यक्रम के प्रमुख आयोजक पंडित कमलापति चतुर्वेदी, दिवाकर चतुर्वेदी, प्रभाकर चतुर्वेदी ,राधेश्याम चतुर्वेदी, संतोष चतुर्वेदी, प्रमोद चतुर्वेदी, प्रदीप चतुर्वेदी, पंकज चतुर्वेदी आदि हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button