उदयपुर जिले के गोगुंदा में 5 कोरोना पॉजिटिव, बढ़ रहा है ब्लैक फंगस का खतरा

उदयपुर (कांतिलाल मांडोत) उदयपुर अस्पताल में कोरोना का भय कम होता जा रहा है। संक्रमण कम होने से ऑक्सीजन बेड सहजता से मिल रहे है।वो मंजर कैसा था जब बेड और ऑक्सीजन के लिए मरीज के परिजन इधर उधर भटकते थे। संक्रमण कम होने से लोगो के दिल मे राहत की उम्मीद बढ़ गई है। लोग कतार में खड़े रहकर बेड की व्यवस्था करते थे। ऑक्सीजन बेड की मारामारी काफी थी। आज संक्रमण कम हुआ है तो ब्लैक फंगस मुँह फाडे खड़ा है। उदयपुर सहित प्रदेश में ब्लैक फंगस के सैकड़ों मरीज अस्पतालो में भर्ती हुए है। कोरोना की बीमारी से ठीक हुए मरिजो को ब्लैक फंगस शिकार बना रहा है। लेकिन घबराने की आवश्यकता नही है। जानलेवा कोरोना से लोग मौत को मात देने में सफल हुए है तो ब्लैक फंगस भी एक दिन हार जाएगा।

प्राकृतिक आपदाओ के दौरान एनजीओ के द्वारा निभाई गई भूमिका संदिग्ध होना अस्तित्व पर सवाल उठता है। देश मे गैर सरकारी संगठन ऊंचे मूल्यों को स्थापित करने के लिए सेवा और परोपकार की बाते की जाती है। परदे के पीछे जेब भराई की संस्कृति को अपना लेते है। मीडिया जगत में साथ रहने वाले एनजीओ इस महामारी के दौरान कहा दुबके रहे है। इस महामारी में भावनात्मक टूटन सभी के दिलो में आई है। कही अपनो को खो देने की,तो बित्ते पंद्रह महीने की त्रासदी में आर्थिक मोर्चे पर बिगडी परिवारो की हालत या अन्य तरह के घरेलू संकट। किशोरावस्था आबादी के लिए वास्तविक पीड़ा के रूप में देखने को मिल रहा है।

गांवो में महामारी से हालत बिगड़ रहे है। शहरों के बाद गांवो में संक्रमण फैलना ज्यादा चिंता की बात है। मोदी ने गांवो में बढ़ते संक्रमण की चिंता जताई और कहा अपने परिजनों को खोने की पीड़ा से दु:खी परिवार वालों को भगवान दु:ख सहन करने की शक्ति प्रदान करे। अलबत,राज्य में अभी हालात सुधरे नही है। लेकिन हर हालत को निपटने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सदा तैयार है। कैसे भी हालत सामने आए राज्य सरकार मक्कमता से सामना करेगी।

एक के बाद एक आफत देश और राज्यो को शिकंजे में ले रही है। उसी ताकत से सरकार डट कर सामना कर रही है। दरअसल, उदयपुर जिले के गोगुंदा, कोटडा,झाडोल आदि क्षेत्रों में कोरोना में कमी जरूर हुई है। लेकिन अभी तक गांवो से बीमारी नाबूद नही हुई है। जिस तरह लॉकडाउन का पालन किया गया है और सरकार तटस्थ है ,उसका प्रभाव महामारी को मात देने में पड़ा। धीरे कोरोना गांवो से निकल जाएगा। हिमत से काम ले।

सायरा चिकित्सा अधिकारी आर एस मीणा ने बताया कि गोगुंदा में आज पांच संक्रमण मरीज मिले है।मोहनसिंह पिता उदयसिंह राजपूत निवासी भुताला पंचावती की भागल में बिना अनुमति शादी समारोह का आयोजन किया गया था।बड़गांव नायब तहसीलदार ,अभिलेख निरीक्षण प्रतापसिह राणावत और गोगुन्दा पुलिस जाब्ता मौके पर पहुँच कर शादी समारोह के आयोजकों पर पांच हजार रुपए का जुर्माना किया।शादी कोरोना की गाइड लाइन से की जा रही थी।परन्तु जउपखण्ड अधिकारी की अनुमति नही ली गई थी। उसके मधेनजर जुर्माना लगाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *