कोरोना: गोगुन्दा में आज 34 मरीज मिले, क्षेत्र में पसरा भय

उदयपुर (कांतिलाल मांडोत)कोरोना महामारी का प्रकोप थमने का नाम नहो ले रहा है।उदयपुर में पॉजिटिव मरीजो की संख्या बढ़ रही है।मरीजो के मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है।शेल्टर होम में बालिकाए कोरोना पॉजिटिव मिली है।पूरा देश ,राज्य और जिले ऑपरेशन ऑक्सीजन पर जुटा हुआ है।हम अपने ही प्राण बचाने में लगे है।आपदा से निपटने के लिए सकारात्मक सोच रखते हुए एक दूसरे के साथ ही सरकार को सहयोग करे।कोरोना संकट से मुक्ति पाने के लिए मनोबल नही तोड़े।सोशल मीडिया पर भ्रामक नकारात्मकता नही फैलाए।
केंद्र और राज्य सरकार चाहे जो भी दलील दे,लेकिन वर्तमान में संसाधनों के अभाव साफ दिख रहा है कि हमने पिछले साल से सीख नही ली।सरकार ने युद्ध स्तर पर वैक्सिन बनाई लेकिन कोरोना की दूसरी लहर का अंदाजा नही था।आज आलम यह है कि ऑक्सीजन के अभाव,अस्पताल, बेड, दवा,डॉक्टर और नर्स आदि की कमी के कारण हजारों लोग दम तोड़ रहे है।उदयपुर में  श्मशान घरो में शवो की अंत्येष्टि के लिए लाइन लग रही है।मानव जात की विडम्बना है कि जीते जी गृह जीव न सरकारी कचेरियों के सामने कतार में खड़े रहे और मरने के बाद भी नसीब ने श्मशान गृह में अंतिम संस्कार के लिए शवो की लाइन लगानी पड़ रही है।
शहर सहित गांवो में पुलिस प्रशासन द्वारा दो गज दूरी और मास्क पहनने की सलाह दी जा रही है।गलतियों का ठीकरा सरकार पर ही क्यो फोड़ा जाता है।वर्तमान में कोरोना महामारी के दौर में जो विकराल रूप भारत मे दिख रहा है उसके लिए सिर्फ सरकार को जिम्मेदार ठहराना ठीक नही है।अपनी  गलतियों का ठीकरा दुसरो के सिर पर फोड़ना,सरकार की निंदा करना, किसी भी समस्या का समाधान नही है।इसके लिए हम सबको आगे आना होगा।
राजस्थान सरकार ने पिछली महामारी में बेस्ट व्यवस्था की थी।राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की कोरोना काल के दरमियान की गई व्यवस्था की प्रशंसा की थी।हमारी लापरवाही के चलते हम अपने को भी सुरक्षित नही रख पा रहे है।राज्य और उदयपुर जिले में संक्रमण की स्थिति से निपटने के प्रयास हम सबको मिलकर करना होगा।सरकार की प्राथमिकता कोरोना संक्रमितों के इलाज को लेकर है।उदयपुर में रेमडीसीवीर इंजेक्शन की कालाबाजारियों पर पुलिस की बराबर नजर है। उनसे उगलवाया जा रहा है।कालाबाजारियों की अदालत ने जमानत खारिज कर दी।
अब तो गांवो में भी संक्रमित मिल रहे है। उदयपुर जिले के गोगुन्दा तहसील में कोरोना जांच के लिए लोगो की कतार लग रही है।गोगुन्दा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र स्थित ग्राउंड में मरीज कतार में खड़े रहकर जांच का पंजीकरण करा रहे है।सायरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर भी कतार लगी हैं।
सायरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ आर एस मीणा ने बताया कि आज कोरोना  संक्रमित 34 मरीज मिले है। गांवो में आज फिर से दहशत का माहौल है। तरपाल में आज राजकीय आयुर्वेदिक अस्पताल में डॉ महात के हाथों लोगो को सुखा काढ़ा वितरण किया गया।सोशल डिस्टसिंग का पालन करते हुए सूखा काढ़ा ग्रामीण जनता को दिया।गोगुन्दा सहित गांवो में सड़के सुनी है।लोग पालन कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

child pornchild pornkadıköy masözexxen izlehacklink panelihttps://sohbethattikizlari.net/ manavgat escort manavgat escort bayan belek escort manavgat escort seks hikaye sex hikaye sex hikaye izmir escort