सूरत

सारोली कुबेरजी मार्केट के राजस्थानी व्यापारी के खिलाफ 3.17 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत

सूरत। शहर के सारोली कुबेरजी मार्केट में दुकान शुरू कर सप्ताह में भुगतान का वादा करके करोड़ों में पलायन करनेवाले राजस्थानी व्यापारी के खिलाफ क्राइम ब्रांच में 3.17 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज होने पर आर्थिक अपराध निवारण शाखा ने जांच शुरू की है। आशंका जताई जा रही है कि राजस्थानी व्यापारी के ठगी के कई शिकार हो गए हैं।

क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक सूरत के पालनपोर जलाराम इंटरनेशनल स्कूल के पास में कासाकिंग बी/401 में रहने वाला 45 वर्षीय प्रदीपभाई गोविंदाराम बकसा की रिंगरोड पर स्थित गोल्डन प्लाजा में सतनाम टेक्सटाइल के नाम पर भिवंडी और मालेगांव से सूरत में ग्रे कपड़ा लाकर बेचता है। पांडेसरा की एक मिल में नौकरी करनेवाले परिचित डाइंग मास्टर संजय ठाकोर का रेफरन्स देकर सितंबर 2021 में व्यापारी संजय कनैयालाल खत्री को फोन करके बताया था कि मैं सवाई माधुपुर से आया हूं, मेरे पिता का निवाईमंडी जयपुर में तेल का होलसेल का कारोबार है और मैं फिलहाल सारोली कुबेरजी मार्केट में रूद्राक्ष टेक्सटाइल के नाम से फिनिश कपड़ा का कारोबार शुरू किया है।

संजय खत्री ने सप्ताह में भुगतान करने का वादा करने पर प्रदीप ने उसके साथ व्यापार शुरू कर दिया और 20 सितंबर 2021 से 22 मार्च 2022 के बीच कुल 1,99,39,047 रुपये का माल भेजा। इसमें से संजय ने 1,36,81,834 रुपये का भुगतान किया और 62,57,213 रुपये का भुगतान बाकी रखा। जिसकी मांग करने पर संजय ने पहले वादे किए लेकिन फिर वह अपनी दुकान और मोबाइल बंद कर भाग गया।

प्रदीपभाई को बाद में पता चला कि संजय ने करोड़ों जुटाए थे और उनके जैसे 42 व्यापारियों, दलालों और ट्रांसपोर्टरों को 2,54,36,452 रुपये का भुगतान नहीं किया था। सभी पीड़ितों की ओर से प्रदीपभाई ने आज संजय के खिलाफ क्राइम ब्रांच में कुल 3,16,93,665 रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई। आशंका जताई जा रही है कि संजय के ठगी और भी शिकार हुए होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button