कपड़ा व्यापारियों के दिक्कतों में इजाफा, ऑर्डर हुए रद्द

पूरे देश सहित सूरत में कोरोना की दूसरी लहर के बीच अधिकतर राज्यों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। इसका असर सूरत के कपड़ा कारोबारियों पर पड़ा है। अन्य राज्यों में लॉकडाउन के चलते अब व्यापारियों ने ऑर्डर रद्द करना शुरू कर दिया है। जिससे पहले से ही परेशन सूरत के कपड़ा व्यापारियों की दिक्कतों में इजाफा हो गया।

व्यापारियों का कहना है कि अगर ऐसा ही माहौल रहा तो मार्केटों में किराए से दुकान लेकर कारोबार करने वाले छोटे व्यापारियों को अपने प्रतिष्ठान बंद करने की नौबत आएगी। सूरत के व्यापारियों के लिए परिस्थिति दिनोंदिन बदतर हो जा रही है।

देश के महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडू, बिहार, ओडिशा सहित कई राज्यों में लॉकडाउन के कारण रिटेल मार्केट बंद है। जिसका सीधा असर सूरत के कपड़ा कारोबार पर पड़ा है। देश में बढ़ते कोरोना मामले के कारण देशभर में फिर से तालाबंदी की चर्चा जोर पकडऩे लगी है।

अन्य राज्यों के व्यापारी लॉकडाउन के डर से खरीदी करना टाल रहे है और जिन व्यापारियों ने पहले ऑर्डर बुक करवायी थी वह भी अपनी ऑर्डर रद्द कर रहे है। सूरत के कपड़ा व्यापारियों ने की अब हालत जले पर नमक छिडक़ने जैसी हो गई है।
कपड़ा बाजार में रूपयों का रोटेशन बंद होने से अब व्यापारियों को लोन का भुगतान करने में भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अन्य राज्यों के व्यापारियों के पास भी पेमेन्ट फंसा हुआ है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो आगामी दिनों में पार्टी पलायन की घटनाएं बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *