सूरत

चारधाम यात्रा करेगी सरकार: गुजरात से 75 बसें रवाना होंगी, सोमनाथ में तिरंगा को सलामी दी जाएगी

राज्य सरकार ने “श्रवण तीर्थ दर्शन योजना” लागू की है ताकि गुजरात के वरिष्ठ नागरिक आसानी से गुजरात के यात्रा धाम में जा सकें। जिसके तहत यात्रा खर्च का 50% गुजरात सरकार द्वारा यात्रा करने वाले लोगों को प्रदान किया जाता है।

लेकिन देश आजादी के 75 साल मना रहा है। इसलिए आजादी का अमृत महोत्सव के तहत श्रवण तीर्थ दर्शन यात्रा में सब्सिडी 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 75 प्रतिशत करने की घोषणा की गई है। आज रात 75 बसें सोमनाथ के लिए रवाना होंगी

कैबिनेट मंत्री पूर्णेश मोदी ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि 75 बसों के जरिए वरिष्ठ नागरिकों की चारधाम यात्रा की जाएगी। जिसके लिए 4000 से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। यदि दंपति में से किसी एक की आयु 60 वर्ष है, तो उन्हें भी लाभ दिया जाएगा। सूरत पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में 50 हजार तिरंगे बांटे जा चुके हैं। सभी तीर्थयात्रियों को राष्ट्रीय ध्वज दिया जाएगा। तीर्थयात्री सोमनाथ में राष्ट्रीय ध्वज को सलामी देंगे।

तीर्थयात्री सोमनाथ जाएंगे और राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे

इस समय श्रावण मास चल रहा है। उसमें भी सोमवार को पवित्र माना जाता है। फिर आज रात 4000 से अधिक में से 75 बसें सूरत से सोमनाथ के लिए रवाना होंगी। 72 घंटे में बस वापस आ जाएगी। कल सुबह चोटिला, फिर गोंडल भी स्वामीनारायण और खोडलधाम जाएंगे और उसके बाद ही सोमनाथ पहुंचेंगे। सोमनाथ में ध्वजारोहण में शामिल होंगे।

फिर तीर्थयात्री नर्मदा के तट पर भालकातीर्थ, वड़ताल स्वामीनारायण मंदिर और नीलकंठ महादेव के दर्शन कर सूरत पश्चिम विधानसभा के 167 वरिष्ठ शहरों में लौटेंगे। गौरतलब है कि सिंधु दर्शन जिसमें गुजरात सरकार 15000 सब्सिडी देती है। गुजरात से अयोध्या की यात्रा के लिए राज्य सरकार 5 हजार की सब्सिडी देती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button