सूरत

नॉन स्टॉप वक्तव्य से सूरत के नाम नया गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनेगा

आजादी के अमृत महोत्सव के वर्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकासशील भारत विषय पर 24 घंटे में वक्तव्य देकर बनाएंगे रिकॉर्ड

सूरत। संपूर्ण विकास ट्रस्ट द्वारा सूरत में 9 और 10 अप्रैल को एक अनोखा गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड बनाया जाएगा। विकासशील भारत विषय पर 250 वक्ता 24 घंटे लगातार भाषण देंगे। वह वर्ल्ड रिकॉर्ड के जरिए भारत के विकास की खबर लोगों तक पहुंचाएंगे। रिकॉर्ड में भाग लेने के लिए पूरे भारत से वक्ता सूरत आएंगे।

ट्रस्टी पीयूष व्यास ने कहा कि जब वह 2018 में नरेंद्र मोदी से मिले थे तो उन्होंने लोगों को एक नया रिकॉर्ड स्थापित करने के लिए प्रेरित किया था। बाद में एक नया विचार आया। हमने एक नया रिकॉर्ड बनाने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के साथ बातचीत शुरू की। गिनीज बुक मोस्ट पीपल इन स्पीच रिले ने थीम दी।

पूजा व्यास ने कहा कि गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए प्रतिभागी को ढूंढना कठिन था। स्पीकर ढूंढना लोहे को चबाना जितना मुश्किल था। लोग आमतौर पर मानते हैं कि वे बोल सकते हैं। लेकिन सार्वजनिक रूप से बोलना और किसी खास विषय पर बोलना बहुत मुश्किल होता है। रिकॉर्ड में भाग लेने के लिए 600 लोगों ने आवेदन किया था।

एप्लिकेशन को वीडियो कॉल, वीडियो, फोन के माध्यम से स्काउट किया गया था। कई को खारिज कर दिया गया। सार्वजनिक रूप से कैसे बोलना है, विषय पर क्या बोलना है, विषय का चुनाव, विषय का विभाजन, विकासशील भारत के मुद्दों को कैसे करना है आदि पर प्रशिक्षण दिया गया। सभी का प्रेजेंटेशन लिया गया। संगठन ने वीडियो बाइट लिया। महत्वपूर्ण लोगों का मॉक टेस्ट लिया। 35 से ज्यादा लोगों को रिजेक्ट कर दिया गया।

विकासशील भारत के मुद्दे का पता लगाने के लिए राजनीतिक निकायों, राजपत्रित कार्यालयों, सरकारी वेबसाइटों का उपयोग किया गया। विकासशील भारत के विषय पर विभिन्न मुद्दों को खोजना एक कठिन कार्य था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल से पहले और बाद में किए गए विकास कार्यों का पता लगाया गया। हमारे आस-पास बहुत से विकास कार्य हुए हैं लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया जाता है।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के जरिए आम जनता इस घटनाक्रम से अवगत होगी। आम जनता को कई सरकारी योजनाओं की जानकारी नहीं है। 250 वक्ताओं में अलग-अलग मुद्दे होंगे। इस रिकॉर्ड में टाइम मैनेजमेंट, टीम बिल्डिंग, इवेंट मैनेजमेंट का बहुत महत्व है। पीयूष व्यास, पूजा व्यास, करशन गोंडालिया के संयोजन और श्री हरि समूह के राकेश दुधात के अनुभव और सहयोग ने इस रिकॉर्ड को व्यवस्थित करने में बहुत मदद की।

वेसु में हॉर्स कैफे में 250 से अधिक वक्ताओं को यह समझाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था कि इस रिकॉर्ड को सफल बनाने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए जिसमें बड़ी संख्या में वक्ताओं ने भाग लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button