व्यापारी नई व्यापार नीति से करेंगे व्यापार

केटलोग प्रिंटिंग इंडस्ट्रीज  संकट के दौर से गुजर रही है

सूरत,कच्चे माल की शॉर्टेज, पेपर एवं केमिकल में 20 से 30 फीसदी की बढ़ोतरी होने से सूरत ओफसेट प्रिंटिंग एसोसिएशन नई व्यापार नीति से व्यापार करेंगे। इस हेतु एसोसिएशन द्धारा प्रेस वार्ता का आयोजन बुधवार को सुबह वीआईपी रोड स्थित श्री श्याम मंदिर, सुरतधाम के अंजनी हॉल में किया गया । एसोसिएशन ने बताया की केटलोग प्रिंटिंग इंडस्ट्रीज अभी संकट के दौर से गुजर रही है। लॉकडाउन के बाद से कच्चे माल की किल्लत और श्रमिकों की लगातार कमी चल रही है। कच्चे माल की कमी के चलते कई मीलों को उत्पादन बंद करने की नौबत आ चुकी है और पेपर मीलों ने भी प्लान्ट बंद करने का निर्णय लिया है।

वेस्ट पेपर एवं कच्चे माल की कीमतों में भी 40 से 50 फीसदी बढ़ोतरी हुई है साथ ही गम-केमिकल, फिल्म, प्रिंटिंग मैटेरियल्स के दामों में भी करीबन 30 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। लागत बढऩे एवं सप्लाई देने में होने वाली कठिनाई के चलते भाव बढ़ाना मजबूरी हो गया है। अगर ऐसा नहीं किया तो पूरा केटलॉग उद्योग घाटे में चला जायेगा।

ऐसे हालत में सूरत ओफसेट प्रिंटिंग एसोसिएशन ने नई व्यापार नीति बनाकर 20 से 30 फीसदी भाव बढाकर व्यापार करने का निर्णय किया है। इसके अलावा माल का पेमेंट भी निश्चित धारा-धोरण में लेने का निर्णय किया है, जिसके तहत तय अवधि तक पेमेंट करने वाले व्यापारियों से व्यापार करने का निर्णय लिया है। प्रेस वार्ता में सूरत ओफसेट प्रिंटिंग एसोसिएशन ने सभी व्यापारियों को सहयोग करने की अपील की है। प्रेस वार्ता के दौरान सूरत ओफसेट प्रिंटिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष आलोक जैन, उपाध्यक्ष रमेश जैन, सचिव बिरजू तलाटी, कोषाध्यक्ष असगर संचावाला सहित अनेकों सदस्य उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *