प्रादेशिक

उदयपुर जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा ने दीप प्रज्वलित कर गणगौर महोत्सव का आगाज किया

उदयपुर (कांतिलाल मांडोत )। तीन दिवसीय ऐतिहासिक गणगौर मेले के दूसरे दिन जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। जिला कलेक्टर ने गोगुन्दा के गणगौर महोत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रम में आनंद उठा रहे है। गोगुन्दा का ऐतिहासिक मेला 175 वर्षो से लग रहा है।

आज दूसरे दिन सुबह से ही लोग मेला देखने पहुँचे। गणगौर माता की सवारी निकाली गई। पीली पोशाक में सजधज कर निकले। गांव के पूर्व सरपंच करणसिंह झाला ने बताया कि गणगौर मेला 175 वर्ष से लग रहा है। यह मुख्य आकर्षक का केंद्र है। इसमें आदिवासी गरासिया समाज के लोग परिणय सूत्र बंधन में बंधते है। मेले को देखने अन्य जिलों सहीत दूसरे राज्य से भी आते है।

पर्यटन विभाग राज्य के कलाकारों द्वारा विभिन्न पारम्परिक वेशभूषा में सांस्कृतिक रंगारंग प्रस्तुतियां करवाते है। दर्शको की भीड़ लगती है ।मेले का मुख्य आकर्षक का केंद्र रहती है। तीन दिन के गणगौर मेले के आयोजन के पहले दिन प्रतिपक्ष नेता गुलाबचंद कटारिया ने मेले का उद्घाटन किया।

इस मौके पर पूर्व मंत्री चुनीलाल गरासिया, विधायक प्रताप गमेती,जिला प्रमुख ममता कुंवर जिला उपप्रमुख पुष्कर तेली भाजपा जिला अध्यक्ष भंवरसिंह पंवार गोगुन्दा प्रधान सुंदर देवी उप प्रधान लक्ष्मणसिंह झाला पूर्व प्रधान पप्पू राणा भील सरपंच कालूलाल गमेती जिला मंत्री दया लाल चौधरी सहित वार्ड पंच सहित जन प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button