सूरत

अग्निपथ योजना सेनाभर्ती इच्छुक युवाओं के भविष्य और भावनाओं से साथ खिलवाड़ हैं : शान खान

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता शान खान ने केंद्र सरकार द्वारा सेनाभर्ती के लिए हाल ही में शुरू की गई नई प्रणाली अग्निपथ योजना को सेनाभर्ती इच्छुक युवाओं के भविष्य और भावनाओं से साथ खिलवाड़ करार देते हुए केंद्र की भाजपा सरकार पर तीखे प्रहार किए।

शान खान ने बयान में बताया की कोरोना के पहले से ही केंद्र सरकार ने सेनाभर्ती को रोककर रखा था जिसके चलते वर्तमान समय में सेना में लगभग १.२५ लाख से अधिक पद खाली हैं। अब जब केंद्र सरकार ने ४० हजार सेनाभर्ती निकलने का निर्णय लिया तो केंद्र सरकार ने पुरानी भर्ती प्रणाली को खत्म कर नई भर्ती प्रणाली लागू की जिसका नाम अग्निपथ रखा गया हैं। इस प्रणाली से भर्ती होने वाले ७५ फीसदी सैनिकों का कार्यकाल मात्र ४ वर्ष का होगा। ४ वर्ष बाद उन्हें रिटायर कर दिया जाएगा और उन्हें पेंशन, ग्रेजयूटी, स्वास्थ सेवा भी नहीं मिलेगी। उनकी आजीविका की कोई गारंटी नहीं दी गई हैं।

मोदी सरकार वन रैंक वन पेंशन का नारा देकर सत्ता में आई थी और अब नो रैंक नो पेंशन को प्रणाली लागू कर रही हैं। ऐसे में केवल ४ वर्ष बाद ही वो सैनिक रोजगार गवा देगा सेना की ४ वर्षीय सेवा के बाद उन युवाओं का भविष्य अंधकार में चला जाएगा। बचपन से सेना की वर्दी का सपना देखने वाले युवाओं के सपनों को अग्निपथ योजना के माध्यम से केंद्र सरकार कुचलना चाह रही हैं सेना में ऐसे घातक प्रयोग करना देश की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड़ हैं अतः सरकार को हटधर्मी छोड़कर युवाओं की भावनाओं को समझते हुए तत्काल इस योजना को वापस लेना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button