सूरत में जेठानी की प्रताडऩा से विवाहिता अपने दो बच्चों के साथ आत्महत्या करने निकली, जानें फिर क्या हुआ?

शहर में घरेलु झगड़े के मामले आए दिन सामने आते रहते है। कई मामले में तो आत्महत्या तक पहुंच जाते है। ऐसा ही एक मामला सूरत में सामने आया है। एक विवाहिता जेठानी की प्रताडऩा से तंग आकर अपने दो बच्चों के साथ खुदकुशी करने निकले थी। लेकिन जैसे ही पुलिस को घटना की सूचना मिली पुलिस तत्काल होपपुल पर पहुंच गई और विवाहिता को आत्महत्या करने से रोक कर समझाकर पति के साथ घर भेज दिया।

सूत्रों के मुताबिक पर्वत पाटिया इलाके में विवाहिता संयुक्त परिवार में रहती है। पति कपड़ों का व्यापार करता है। बुधवार को जब उसका पति घर पर नहीं था, तो उसने अपने पति को फोन किया और कहा कि वह अपने बच्चों के साथ आत्महत्या करने जा रही हूं। पत्नी बात सूनकर पति की जमीन तले जमीन खिंसक गई।

पति ने तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी और कंट्रोल रूम ने पर्वत पाटिया क्षेत्र के आसपास के सभी थानों को सूचित कर महिला को खोजने का निर्देश दिया। इस बीच शाम 4.20 बजे कंट्रोल रूम में फोन आया कि होप ब्रिज पर एक महिला दो बच्चों के साथ खड़ी है और शंकास्पद हालत में है। जिससे कंट्रोल रूम ने रांदेर पुलिस को सूचना दी। रांदेर थाने की पीसीआर महज चार मिनट में होप ब्रिज पहुंच गई जहां मोहिनी अपने दो बच्चों के साथ मिली।

इसके बाद पीसीआर महिला को रांदेर थाने लेकर आयी, जहां उसके पति को भी बुलाया गया। महिला पुलिस ने विवाहिता की काउंसलिंग की। विवाहिता ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसकी जेठानी उसे परेशान कर रही थी। जेठानी से तंग आकर वह आत्महत्या करने के लिए निकली थी। पुलिस अधिकारियों ने उसे समझा कर उसका काउंसलिंग करके भविष्य में कोई समस्या होने पर पुलिस से मदद मांगने को कहाऔर पति के साथ घर भेज दिया। इसतरह पुलिस की समय सूचकता के कारण तीन लोगों की जान बच गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

konya escort