भारत

बिहार में सेना की अग्निपथ योजना का विरोध, ट्रेन पर पथराव, सड़कें जाम

भारतीय सेना ने युवाओं के लिए अग्निपथ योजना की घोषणा की, जिसमें 4 साल की नौकरी की बात कही गई थी। लेकिन इस योजना से युवाओं को प्रोत्साहन मिलने से पहले ही बिहार में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं, ट्रेनों पर पथराव और सड़कें जाम हो गई हैं। इसकी शुरुआत बिहार से हुई, जहां बक्सर में युवकों ने एक ट्रेन पर पथराव किया।जबकि मुजफ्फरपुर में लोग सड़कों पर उतर आए हैं। बक्सर में गुस्साए युवकों ने ट्रेन पर पथराव कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार पटना जा रही पाटलिपुत्र एक्सप्रेस पर पथराव किया गया। इस बीच काशी पटना की जनशताब्दी एक्सप्रेस प्लेटफॉर्म नंबर एक पर करीब 18 मिनट तक रुकी रही। जिससे रेल व्यवस्था और यात्री परेशान होते नजर आए।

वहीं मुजफ्फरपुर में भी सेना में भर्ती युवाओं का प्रदर्शन शुरू हो गया है। मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन के पास चक्कर चौक पर प्रदर्शन कर रहे युवकों ने हंगामा किया। चक्कर चौक पर युवकों ने सड़क जाम कर दिया। यहां से करीब आधा किलोमीटर दूर चक्कर मैदान है, जहां सेना भर्ती रैलियां होती हैं। इसके अलावा चक्कर मैदान के पास गोबरशाही चौक पर भी धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। सदर थाने के पास भगवानपुर गोलबर में भी बड़ी संख्या में युवक जमा हो गए हैं। वहां भी एनएच 28 को जलाकर जाम कर दिया गया है।

युवाओं का कहना है कि सिर्फ 4 साल के लिए काम पर रखना रोजगार के अधिकार का उल्लंघन है। मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और तीनों सेना प्रमुखों ने दिल्ली में योजना की घोषणा की। योजना के तहत 17.5 वर्ष से अधिक और 21 वर्ष तक के युवाओं को अग्निवीर के रूप में भर्ती किया जाएगा और उन्हें 4 साल तक नौकरी मिलेगी। उनमें से पच्चीस प्रतिशत का चयन सेना में नियमित नौकरियों के लिए किया जाएगा और उनकी अलग से स्क्रीनिंग की जाएगी। अग्निवीर के रूप में काम करने के बाद युवाओं को डिस्चार्ज होने पर 11 लाख रुपये का वन टाइम पैकेज दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button