आज से दो दिन बैंकों की हड़ताल, जानिए कौनसी सेवाओं पर असर पड़ेगा

बैंकों के निजीकरण और अन्य मांगों को लेकर बैंक कर्मचारी हड़ताल पर, करोड़ों के वित्तीय लेनदेन होंगे प्रभावित

लाखों सरकारी बैंक कर्मचारी सोमवार और मंगलवार को दो दिवसीय हड़ताल पर रहेंगे। दो सार्वजनिक बैंकों के निजीकरण और कुछ अन्य मांगों के विरोध में बैंक कर्मचारी हड़ताल पर जा रहे हैं। ग्रामीण बैंक भी हड़ताल में शामिल होंगे।

देश भर के दस लाख बैंक कर्मियों के हड़ताल में शामिल होने की उम्मीद है। अनुमान है कि गुजरात में 60,000 से अधिक बैंक कर्मचारी हड़ताल में शामिल होंगे। राज्य की पांच हजार शाखाएं बंद हो जाएंगी और करोड़ों रुपये का वित्तीय व्यवहार बाधित हो जाएगा। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के दस लाख कर्मचारी पिछले महीने से केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और अब 15 और 16 मार्च को दो दिन की बैंक हड़ताल की घोषणा की गई है।

उल्लेखनीय है कि बैंक शनिवार और रविवार को भी बंद थे। सरकारी बैंकों का संचालन लगातार चार दिनों तक स्थगित रहेगा। जिससे लाखों आर्थिक लेनदेन को ठप हो गया है। गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में आईडीबीआई बैंक के अलावा दो और सरकारी बैंकों के निजीकरण की घोषणा की। जिसका बैंक यूनियन विरोध कर रही है। अब इस विरोध ने हड़ताल का रूप ले लिया है।

यह सेवा होगी प्रभावित

इस हड़ताल के कारण, शाखा में जमा, निकासी, चेक निकासी, ऋण अनुमोदन जैसे सभी कार्य बंद हो जाएंगे। हालांकि एटीएम सेवा जारी रहेगी। ऑनलाइन लेनदेन का विकल्प भी उपलब्ध होगा। 15 और 16 मार्च को शाखा में जाने के बजाय ग्राहक यूपीआई भुगतान सेवा के माध्यम से लेनदेन कर सकता है और घर से नेट बैंकिंग सेवा का भी उपयोग कर सकता है। हड़ताल का एटीएम पर कोई असर नहीं होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *