सूरत

सूरत कपड़ा बाजार में 1.19 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 9 मामलों में 6 आरोपी दिल्ली-हरियाणा से गिरफ्तार

सूरत शहर में सिल्क सिटी के नाम से दुनिया में मशहूर है। सूरत में कपड़ों की खरीदी करने पूरे देश से लोग आते हैं। वे यहां के व्यापारियों का फायदा उठाकर बिना पैसे दिए सामान खरीदकर धोखाधडी कर रहे हैं। पुलिस ने धोखाधड़ी के नौ मामलों में मुकदमा चलाकर दिल्ली-हरियाणा सहित क्षेत्रों से छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

कपड़ा बाजार में करोड़ों रुपये के गबन की घटनाएं कानून की सीमा के भीतर सिविल/अपराधी सुनियोजित प्लान बनाकर दुकान किराये पर रखकर व्यापारियों का विश्वास संपादन कर उधार में कपड़ा माल की खरीदी कर दुकान और मोबाइल बंद कर फरार हो जाते है। ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करना शुरू कर दिया गया है। इस तरह के कुल 09 अपराध दर्ज किए गए हैं। कुल 06 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल आरोपियों की तलाश और गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग पुलिस टीम हरियाणा और दिल्ली भेजी गई है।

सूरत के पुलिस आयुक्त अजय तोमर ने कहा कि कपड़ा बाजार में कुछ मुनाफाखोर सूरत के अन्य व्यापारियों से संपर्क कर कारोबार शुरू करते हैं। उन्हें समय पर पैसे देने की बात कहकर कारोबार शुरू हो जाता है। कुछ देर बाद धोखा देकर या हालात देखकर उठकर भाग जाते हैं। दुकानें और फोन बंद करना और भूमिगत हो जाते है। सूरत पुलिस और कपड़ा व्यापारियों के बीच नियमित बैठकें कर और ऐसे ठगबाज तत्वों की पहचान करने की अपील की जाती है। उनके साथ व्यापार न करने की भी हिदायत दी गई है। एक बात तो तय है कि स्थानीय कपड़ा बाजार में घूम रहे दलाल व्यापारियों के संपर्क में आ जाते हैं। तब इस तरह की घटना होती है।

आरोपियों के नाम
(1) महेंद्रसिंह उर्फ ​​रवि सावलसिंह राव
(2) मनीष भूपतभाई वावडिया
(3) किशोर कुमार अमृतलाल
(4) हार्दिक कांतिभाई भुवा
(5) विशाल राजकुमार अग्रवाल
(6) जयेश जसवंतभाई पटेल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button