धर्म- समाज

अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन सूरत गुजरात प्रदेश ने परमाणु सहेली डॉ. नीलम गोयल का किया सम्मान

अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन सूरत, गुजरात प्रदेश में सभी पदाधिकारियों व सदस्यों ने भारत की परमाणु सहेली डॉ. नीलम गोयल का उनके द्वारा किए जा रहे पानी व बिजली के कार्यों के लिए सम्मान किया। जिसमें परमाणु सहेली ने बताया कि सूरत में कोयले की कमी व बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए सूरत में स्मार्ट माड्यूलर रिक्टर की जरूरत होगी। इसके लिए समय पर परमाणु ऊर्जा के प्रति गलतफहमीयो को दूर करना होगा व सही व सटीक जानकारी लोगों तक पहुंचाने होगी ताकि जब भी स्मार्ट माड्यूलर रिक्टर की बात आए तो लोगों का सकारात्मक वातावरण मिले। पिछले उदाहरणों को देखते हुए हमे समय रहते प्रयास कर लेने होंगे।

परमाणु सहेली ने बताया कि पूरे विश्व का 85% परमाणु ईंधन थोरियम भारत के पास है जबकि परमाणु ऊर्जा से मात्र 2% बिजली ही भारत देश में बनाई जाती है। जबकि दूसरे देशों जैसे अमेरिका में 21% जापान में 35% फ्रांस में 75% बिजली परमाणु ऊर्जा से बनाई जाती है। भारत में बंद होते कोयले का विकल्प परमाणु ऊर्जा का समय रहते एक सकारात्मक माहौल बनाना जरूरी है। इसके लिए सूरत शहर में जनजागृति के कार्यक्रम किए जाएंगे।

सभी पदाधिकारियों व अध्यक्ष ने परमाणु सहेली द्वारा चलाए जा रहे इन कार्यक्रमों की सराहना की व सूरत के लिए बहुत जरूरी बताया। सभी ने परमाणु सहेली के द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों में सभी प्रकार का सहयोग देने का वादा किया व प्रतिज्ञा ली की जब भी यह योजना हमारे क्षेत्र में या भारत में कहीं भी आएंगी हम इन योजनाओ का पूरी तरह से समर्थन करेंगे। कार्यक्रम में अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन सूरत ऑफिस पर सम्मान समारोह रखा गया। जिसमे राष्ट्रीय महामंत्री विनोद अग्रवाल, गुजरात प्रदेश अध्यक्ष रामकरण बाज़ारिया, गुजरात प्रदेश महामंत्री पुरशोत्तम अग्रवाल, सूरत जिला अध्यक्ष बजरंग लाल अग्रवाल मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button