सूरत

कथक नृत्य मंदिर नामक संस्था द्वारा कथक नृत्य का आयोजन 21 को

कार्यक्रम का उद्देश्य स्वर्गीय नटराज गोपी किशनजी को श्रद्धांजलि देना है

सूरत। भारतीय नृत्य को बढ़ावा देना और प्रशिक्षण देना बहुत कठिन है। वहीं शहर के पारले पॉइंट स्थित एक संस्था द्वारा 21 अगस्त को शाम 7 बजे से 10 बजे तक जीवन भारती हॉल में दिवंगत नटराज गोपी किशनजी को श्रद्धांजलि देने के लिए कथक नृत्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

भारतीय नृत्य को बढ़ावा देना और छात्रों को नृत्य का प्रशिक्षण देना एक मुश्किल काम है। भारतीय फिल्मों में भी शास्त्रीय नृत्य के साथ गाने लिए जाते हैं ताकि भारतीय शास्त्रीय नृत्य की कला विलुप्त न हो जाए। सूरत में भी, छात्र कला के लिए अपनी प्रतिभा विकसित कर सके इसके लिए अंबिका निकेतन पार्ले प्वाइंट स्थित कथक नृत्य मंदिर नामक संस्था कार्यरत है।

इस संस्था द्वारा 21 अगस्त को नानपुरा के जीवन भारती हॉल में शाम सात बजे से रात्रि 10 बजे तक कला प्रेमियों की उपस्थिति में दिवंगत नटराज गोपी किशन को श्रद्धांजलि देने के लिए सुचारु आयोजन किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में संस्था की लगभग 35 छात्राओं के साथ-साथ मुंबई, पुणे, वडोदरा और दिल्ली के कथक कलाकारों के साथ-साथ बनारस घराने के कथक के चमचमाते सितारे भी दिवंगत गोपी किशन को उनकी कला के समान श्रद्धांजलि देंगे।

इस प्रकार कथक नृत्य की उत्पत्ति उत्तर भारत से हुई है और कथक स्वयं संस्कृत शब्द “कथा” से लिया गया है जिसका अर्थ है कहानी। वास्तव में यह नृत्य भारतीय संस्कृति को इंगित करता है। इस प्रकार बॉलीवुड की कुछ अभिनेत्रियाँ जिन्होंने अपनी क्लासिकल नृत्य के साथ अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया है। जिसमें प्रख्यात अभिनेत्रियों का समावेश है।

कथक नृत्य भारतीय इतिहास एवं संस्कृति में विशेष स्थान रखता है। इसलिए इस संस्था के प्रबंधक अखिलेश चतुर्वेदी ने संस्था के छात्रों को प्रोत्साहित करने और उन्हें कथक में अपने करियर के लिए अपने सपनों को पूरा करने की कामना की।

इस कार्यक्रम में गुजरात के गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी, प्रसिद्ध तबला वादक कालिदास मिश्रा, फिल्म स्टार अली खान, कोरियोग्राफर मयूरेश वाडेकर आदि मौजूद रहेंगे। शहरवासियों को इस निःशुल्क कार्यक्रम का लाभ लेने की अपील आयोजकों ने की है। संपर्क : अखिलेश चतुर्वेदी 8291599734

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button