गुजरात की स्वास्थ्य सेवाओ को अधुनातन सुविधाओ से लैस करेगी डेटूडे हेल्थ और के.डी.सुपर स्पेशियलिटी का आपसी सहयोग

हेल्थटेक स्टार्टअप डेटूडे हेल्थ इंडिया (DTDHI) ने कोविड19 में भर्ती के दौरान और छुट्टी होने के बाद के कार्यक्रमों सहितगंभीर और व्यापक देखभाल प्रबंधन के लिए अहमदाबाद के के.डीहॉस्पिटल के साथ साझेदारी की है

अहमदाबाद, 1 जून,2021: तीव्र देखभाल के क्षेत्र में एम.आई.टी.मुख्यालय वाले ग्लोबल लीडर की भारतीय शाखा, डेटुडे हेल्थ इंडिया (DTDHI) ने आज घोषणा की कि वह गंभीर और व्यापक देखभाल प्रबंधन के लिए, अहमदाबाद के के.डी. अस्पताल के साथ साझेदारी करके गुजरात राज्य में अपना विस्तार कर रही है। मरीज़ों को अपना रिमोट अनुभव देने और देखभाल कार्यक्रमों के साथ,DTDHI का उद्देश्य लोगों को तीव्र हेल्थकेयर में उत्तम मानक के अनुभव देना है। कोविड19 के दौर में, इस साझेदारी के ज़रिये संक्रमित रोगियों को उनके घर में ही रहते हुए व्यापक रूप से रिमाट तौर पर संभालने की सहूलियत मिलेगी।

300 से ज्यादा बिस्तरों और लगभग 45 सुपरस्पेशलिटी वाला, के.डी. अस्पताल (कुसुम धीरजलाल अस्पताल) अहमदाबाद में प्रमुख निजी हेल्थकेयर नामों में से एक है। DTDHI के साथ यह साझेदारी करके अस्पताल नए जमाने के डिजिटल रूप से सक्षम मानव संचालित समाधानों को अपनाकर तीव्र और व्यापक देखभाल दे पाएगा, जिससे अस्पताल में मरीज़ों को दोबारा भर्ती करने का बोझ कम हो

सकेगा।

DTDHI के संस्थापक और सीईओ, श्री प्रेम शर्मा ने इस साझेदारी पर कहा,“हर मरीज़ के लिए हेल्थकेयर का सफर जटिल और चुनौतियों से भरा होता है। विशेष रूप से, इस दौर में, रोगियों के बीच बढ़ती चिंता और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं पर बढ़ते बोझ की वज़ह से हमारे जैसे अत्यधिक प्रभावी, परिणाम-संचालित हेल्थकेयर कार्यक्रमों की मांग बढ़ी है। इसके अलावा, जो लोग जटिल सर्जिकल इलााज करवाते हैं, उन्हें अस्पताल के दायरे से बाहर भी सर्जरी के बाद की केंद्रित देखभाल की ज़रूरत होती है, जिस वज़ह चिकित्सकीय रूप से फिट, डॉक्टर द्वारा अनुमोदित रिमोट केयर कार्यक्रम समय की मांग हैं। के.डी. अस्पताल के साथ सहयोग करके, हमारा लक्ष्य रोगी के परिणामों में सुधार करना है और रोगी की देखभाल के दौरान अस्पताल को हर महत्वपूर्ण पड़ाव पर मौजूद रहने में सक्षम होने में मदद करना है।”

के.डी. अस्पताल के सीओओ, डॉ. पार्थ देसाई ने इस सहयोग पर कहा,“अत्याधुनिक सुविधाओं और इलाज के साथ, मरीज़ की तार्किक सोच और नैतिक केंद्रीयता पर बनाए गए विविध प्रकार के सटीक निदान और सुरुचिपूर्ण चिकित्सा को शामिल कर रहे हैं, ताकि मानवतावादी व्यवस्था सुनिश्चित हो सके। अब, DTDHI की मदद से रोगियों को उपचार के लिए कई विकल्प दिए जाएंगे, जिनमें से सबसे उपयुक्त एक सहयोगी केस असेसमेंट प्रस्ताव से प्राप्त किया जाता है, जिससे सर्वोत्तम परिणाम पाने के लिए इलाज की सबसे अच्छी व्यवस्था तय की जाती है। इस महामारी के माहौल और सोशल डिस्टैंसिंग के मानदंडों को देखते हुए, रोगियों को अपने लिए और अपने देखभाल करने वालों के साथ निरंतर और समग्र मार्गदर्शन पाने की आवश्यकता होती है। यह उपलब्धि DTDHI के वर्चुअल केयर कार्यक्रमों के साथ संभव होगी।”

उन्होंने आगे कहा,“अपने रोगी केंद्रित प्रस्ताव के साथ,DTDHI एक अनुकूलित संचार योजना से मरीज़ों के हर स्वास्थ्य पहलू को समझने की कोशिश करता है। हम मरीज को संभालते हैं और उनके ऑपरेशन से पहले और बाद की अवधि के दौरान चिकित्सा सहायता प्रदान करते हैं।”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *