सूरत

सूरत : मंत्रा में टफ की सभी योजनाओं के तहत लंबित मामलों के निपटान के लिए दो दिवसीय आउटरीच / क्लीयरन्स शिविर 30 और 31 मई को

शिविर में कपड़ा आयुक्त रूप राशी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहेंगे

कपड़ा मंत्रालय, भारत सरकार की संचालन समिति ने वर्ष 2019 में TUFS दावों के पिछले सभी मामलों में शेष सब्सिडी को वितरित करने का निर्णय लिया था। ताकि MTUFS, RTUFS और RRTUFS के तहत स्वीकृत मामलों में लंबित सब्सिडी सत्यापन के बाद दी जा सके। इसके लिए बैंकों को एक तीसरे पक्ष द्वारा संयुक्त निरीक्षण के लिए छह अनिवार्य दस्तावेज अपलोड करने की आवश्यकता थी, लेकिन यह पाया गया कि 75% लंबित दावों में बैंकों ने या तो छह अनिवार्य दस्तावेज जमा नहीं किए या बार-बार अनुरोध करने बावजूद भी संयुक्त निरीक्षण करने की इच्छा नहीं दिखाई।

इसके अलावा जेआईटी आयोजित की जाती है, ऐसे मामले में बैंकों / इकाइयों द्वारा आवश्यक दस्तावेज जमा नहीं किए गए हैं और इस संबंध में कोई उचित स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है। इसी प्रकार एमेन्डेड अपग्रेडेशन फंड स्क्रीम (ATUFS) से जुड़े मामलों में संयुक्त निरीक्षण पहले ही किए जा चुके हैं और कई मामलों में इकाइयों द्वारा आवश्यक स्पष्टीकरण प्रदान नहीं किया गया था।

TUFS के तहत सभी लंबित दावों के निपटान में तेजी लाने के लिए कपड़ा आयुक्त के कार्यालय ने कपड़ा उद्यमियों के घर घर जाकर आउटरीच शिविर आयोजित करने और समूहों से जुड़े मामलों के लिए आवश्यक स्पष्टीकरण / दस्तावेज एकत्र करने का निर्णय लिया है। इस प्रयास में वस्त्र आयुक्त का कार्यालय पहले ही बैंगलोर, कोयंबटूर, अहमदाबाद और मुंबई में आउटरीच शिविर आयोजित कर चुका है।

इसी कड़ी में अब 30 और 31 मई, 2022 को सूरत शहर के रिंग रोड टेक्सटाइल मार्केट के पास मंत्रा (मेनमेड टेक्सटाइल रिसर्च एसोसिएशन) के कॉन्फरन्स हॉल में आउटरीच / क्लीयरेंस कैंप का आयोजन किया जाएगा। TUFS के तहत लंबित मामलों की एक श्रृंखला जहां संस्थाओं और बैंकों से स्पष्टीकरण की प्रतीक्षा की गई थी, इस शिविर में निपटाया जाएगा।

शिविर का उद्घाटन 30 मई, 2018 को दोपहर 12 बजे सूरत के सांसद और भारत के कपड़ा राज्य मंत्री दर्शनाबेन जरदोश द्वारा मंत्रा में किया जाएगा। दो दिवसीय शिविर के दौरान किसके मामले उठाए जाएंगे, इसकी जानकारी संबंधित लाभार्थियों को पहले ही दी जा चुकी है। शिविर में कपड़ा आयुक्त कार्यालय के अधिकारी शामिल होंगे जिन्होंने संयुक्त निरीक्षण किया, साथ ही सूरत में 32 नोडल बैंक और 12 पीएलआई संस्थान भी शामिल होंगे।

कपड़ा आयुक्त, अहमदाबाद के क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा सूरत के सभी कपड़ा उद्योग संघों और संबंधित इकाइयों से अनुरोध है कि वे 30 मई, 2022 को दोपहर 12:00 बजे मंत्रा में आयोजित होने वाले शिविर के उद्घाटन समारोह में उपस्थित रहें। चैंबर द्वारा संबंधित इकाई धारकों से भी अनुरोध है कि वे TUFS के बकाया दावों के समाधान में शिविर को सफल बनाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button