सूरत

सूरत : दोस्त के साथ अफेयर के शक में पत्नी की बेरहमी से हत्या कर दी

सूरत के देलाडवा गांव के वृंदावन रेजीडेंसी के एक लेसपटी फैक्ट्री के मालिक ने अपने बेटे और पत्नी से माफी मांगी और पुत्रों को नाश्ता लेने के लिए भेजने के बाद पत्नी की हत्या कर दी और पुत्र वापस लौटा तो उसे रूम में जाने से रोका और बाद में फरार हो गया। डिंडोली पुलिस मौके पर पहुंची और देर शाम फैक्ट्री मालिक को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार मूल सुरेंद्रनगर के पाटडी गोरवास पांच हाटडी निवासी और सूरत में उमियाधाम के पास वृंदावन रेजीडेंसी मकान नंबर 59 में पत्नी हंसाबा (उम्र 42), बेटे विक्रमसिंह (उम्र 19) और बेटी नैंसीबा के साथ रहनेवाला और सारोली गांव में किराए के कारखाने में साड़ी पर लेस पट्टी लगाने का जॉब वर्क करने वाले सुरभा धीरसिंह जाला (उम्र 40) को गांव के ही एक मित्र भावुभा के साथ डेढ़ माह से पत्नी का प्रेम संबंध होने का शक था। इससे दोनों के बीच अक्सर झगड़े होते थे और तीन हफ्ते पहले डिंडोली पुलिस द्वारा तलवार से वार करने के आरोप में सुरभा को गिरफ्तार करने के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

जमानत पर रिहा होने के बाद घर नहीं लोटे सुरभा ने बीती दोपहर अपने बेटे विक्रम सिंह को फोन कर उसके साथ और पत्नी से झगड़ा किया। तुम्हारी माँ के अफेयर ने उसकी बदनामी हो गई। उसे मकान खाली करके जाने को कहो ऐसा कह कर रात 12:00 बजे लौटा था दरवाजा खोलने से पुत्र ने मना कर सुबह आने को कहा। सुबह साढ़े सात बजे घर आया सुरभा सीधे पहली मंजिल पर अपने कमरे में गई जहां उसकी पत्नी, बेटा और बेटी गए हुए थे। लेकिन सुरभा बिना कुछ कहे बिस्तर पर सो गया। दस-पंद्रह मिनट बाद सुरभा उठा और अपने बेटे और पत्नी से गलती करने के लिए माफी मांगी।

उसके बाद जब सुरभा ने अपने बेटे को नाश्ते के लिए भेजा तो वह ओमनगर के पास गायत्री फरसान की दुकान पर नाश्ता लेने गया।रात 9 बजे जब वह घर लौटा तो पड़ोसी धीरूभाई के घर से उसकी बहन के रोने की आवाज सुनाई दी और उसने विक्रम सिंह को अंदर नहीं जाने दिया। उसे नाश्ते के लिए नीचे भेजकर सुरभा ने दरवाजा बंद कर लिया और बेडरूम की स्लाइडिंग खिड़की खोली और नीचे की ओर भाग गया। विक्रम सिंह ने चाबी से दरवाजा खोला तो देखा कि उसकी मां खून से लथपथ दरवाजे के सामने फर्श पर पड़ी है और उसके गले से खून के निकल रहा हैं। पिता ने उसकी गर्दन, दोनों हाथों, छाती के दोनों ओर, बाएँ कंधे पर चाकू से वार कर हत्या कर दी थी।

विक्रम सिंह द्वारा घटना की सूचना पुलिस को देने के बाद डिंडोली पुलिस मौके पर पहुंची और उसकी शिकायत के आधार पर हत्या का मामला दर्ज कर देर शाम भगोड़े सुरभा को गिरफ्तार कर लिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button