सूरत

सूरत के कपड़ा बाजार में अब तक का सबसे बड़ा फ्रॉड, 26 साल के ठग ने व्यापारियों के 90 करोड़ रुपये डूबाये

वीवर्स एसोसिएशन ने 26 वर्षीय ठग पर 100 वीवर्स के 90 करोड़ रुपये के गबन का आरोप लगाया

सूरत के ग्लोबल टेक्सटाइल मार्केट के एक 26 वर्षीय ठग पर 100 बुनकरों के 90 करोड़ रुपये के गबन का आरोप लगाया गया है। यह आरोप वीवर्स एसोसिएशन ने लगाया है। कपड़ा बाजार में पलायन का आंकड़ा 65 करोड़ तक पहुंच गया है। लेकिन वीवर्स एसोसिएशन द्वारा दावा किया जा रहा है कि सूरत के कपड़ा बाजार में यह शायद अब तक की सबसे बड़ा पलायन होगा। इस संबंध में फोगवा गृह मंत्री को ज्ञापन देगा।

ठग युवक ने पार्टनरशिप में शुरू की थी 2 अलग-अलग कंपनियां

26 साल के इस ठग ने पार्टनरशिप में 2 अलग-अलग कंपनियां शुरू की थी। इस संबंध में सूरत फोगवा के अग्रणी व व्यापारी गृह मंत्री से मुलाकात करेंगे। मिली जानकारी के मुताबिक सहारा दरवाजा और पुराने बॉम्बे मार्केट के सामने ग्लोबल टेक्सटाइल मार्केट में पिछले कुछ सालों से टेक्सटाइल का कारोबार कर रहे 26 साल के शख्स ने पार्टनरशिप में दो अलग-अलग कंपनियां शुरू कीं। वह डेढ़ साल से बाजार में एक दुकान किराए पर ले रहा था। इस बीच, व्यापारी के गायब होने से कपड़ा उधार देने वाले बुनकरों की मुश्किलें बढ़ गईं। पीड़ित बुनकर कह रहा है कि पलायन की योजना बनाई गई थी। फिलहाल 65 करोड़ रुपये का पलायन सामने आया है । लेकिन बुनकरों का कहना है कि यह वृद्धि कुल 90 करोड़ रुपये तक पहुंचने की संभावना है।

सूरत फोगवा के अग्रणी और व्यापारी गृह मंत्री को देंगे ज्ञापन

फोगवा ने पलायन के शिकार हुए विवारों के साथ एक बैठक का आयोजन किया था। वे सारे सबूत जुटाएंगे और मामले को हर्ष संघवी के सामने पेश करेंगे। सूरत फोगवा के अग्रणी और व्यापारी हर्ष संघवी के साथ मिलकर मामले को रखेंगे।

पार्टी की दुकान खोलने की मांगी जाएगी अनुमति

फोगवा ने दस्तावेज जुटाना शुरू कर दिया है। लेकिन पार्टी की दुकान खोलने की अनुमति मांगी जाएगी। इसके बाद इसमें मौजूद सामान को प्रतिशत के तौर पर पीड़ित बुनकरों को दिया जाएगा। गौरतलब है कि पलायन में 100 बुनकरों का रुपया फंसा हुआ है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button