एक सोच फाउंडेशन का अनूठा प्रयास : प्रतिभाशाली महिलाओं को मंच प्रदान करने के लिए एक हाथ एक साथ एक्जिबिशन का आयोजन

सक्षम महिलाएं बनेंगी जरूरतमंद महिलाओं का सहारा, माहेश्वरी भवन में 14 जुलाई को होगा एक्जिबिशन

सूरत: माहेश्वरी भवन में 14 जुलाई को होने वाली प्रदर्शनी के संबंध में रितु राठी, वनिता रावत, तृष्णा याज्ञिक, निमिषा पारेख, जेतल देसाई, एकता तुलसियान, सोनल मेहता ने घोषणा की कि कोरोनाकाल में कई कलाकारों की हालत खराब हुई है। कई लोगों की नौकरी चली गई है। ऐसे मुश्किल समय में शहर की एक सोच फाउंडेशन उन टैलेंटेड महिलाओं के लिए आगे आई है, जिन्हें एक प्लेटफॉर्म की जरूरत है।

फाउंडेशन विभिन्न संगठनों की मदद से वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने के साथ-साथ जरूरतमंद महिलाओं की मदद के लिए 14 जुलाई को एक हाथ एक साथ एक्जिबिशन का आयोजन कर रहा है। यह आयोजन उन महिलाओं के लिए है जिनके पास कला है लेकिन मंच की कमी के कारण अधिक से अधिक लोगों तक नहीं पहुंच सकती है। यह ऐसी जरूरतमंद महिलाओं के लिए योजना है।

इसमें यूथ फोर गुजरात, इंटरनेशनल अग्रवाल महिला इकाई, माहेश्वरी महिला मंडल, लायंस क्लब, मिस्टर कैफे, आरजेएमएस महिला संघ, लक्ष्मीनारायण चैरिटेबल ट्रस्ट, आर्ट बॉक्स सूरत, मुस्कान चैरिटेबल ट्रस्ट, नवजीवन मोर्टस, प्रीति भाटिया द्वारा अद्भूत स्पार्कल्सï जैसे सहायक संस्थाएं आगे आयी हैं। जबकि रूंगटा बिल्डर्स, लक्ष्मीपति साड़ी, परिमल व्यास ने इस पहल के लिए अपना समर्थन दिया है।

रितु राठी ने आगे कहा कि पूरी आयोजन की खास बात यह है कि इन महिलाओं को न केवल एक मंच प्रदान किया जाएगा बल्कि सक्षम महिलाओं द्वारा एक-एक स्टॉल को अपनाया जाएगा और उनके द्वारा बनाई गई हर चीज को बढ़ावा दिया जाएगा। ऐसी महिलाओं के लिए माहेश्वरी भवन में आयोजित होने वाली प्रदर्शनी में स्टाल भी नि:शुल्क उपलब्ध कराए जाएंगे। इतना ही नहीं ऐसी महिलाओं का आने-जाने का खर्च भी एनजीओ द्वारा किया जाएंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *