सूरत

कोहिनूर मार्केट के व्यापारी के साथ 25.99 लाख की धोखाधड़ी

रिंगरोड कोहिनूर टेक्सटाइल मार्केट में कानीका सारीज के नाम से कारोबार करनेवाले व्यापारी से स्थानीय दलाल के जरिये मुंबई और यूपी के व्यापारियों ने कुल 25.99 लाख का लहेंगा का माल खरीदने के बाद पेमेंट नहीं चुकाकर जान से मारने की धमकी दी।
सलाबतपुरा पुलिस के मुताबिक मूल हरियाणा के हिस्सार निवासी विनित परमानंद बंसल ( उम्र 37, रत्न ज्योति अपार्टमेंट वीआईपी रोड वेसू ) रिंगरोड कोहिनूर टेक्सटाइल मार्केट में दुकान नं 150-151 में कनिका सारीज नामक से सिन्थेटिक साड़ी और लहेंगा का कारोबार करते है।

पहले मिलेनियम मार्केट 1 में दुकान थी, तब राम प्रसाद नामक व्यक्ति दुकान पर मिलने आया था और खुद को मार्केटों में साड़ी और लहेंगा बेचने की दलाली का कामकाज करता होने की बात कहीं। रामप्रसाद ने उसके पास मुंबई की अच्छी पार्टी है और मार्केट में अच्छा नाम है। वे पेमेंट भी मार्केट के नीति नियमों के मुताबिक देने की बात कहकर उनके साथ कारोबार करेंगे तो अच्छा नफा कमाएंगे कहकर विश्वास में लिया था। और उनकी 2 प्रतिशत दलाली होगी और पेमेंट की पूरी जिम्मेदारी उनकी होने की बात कहीं थी।

रामप्रसाद के कहने पर पिछले 23 अक्टूबर 2019 से दिसंबर 2019 तक विवा सिलेक्शन के प्रोपराइटर सोनलबेन हिरेन पोपट और उसका पति हिरेन पोपट ( निवासी रोजी कॉलोनी खांडवाला लाइन दफ्तरी रोड, गणपति मंदिर के पास मलाड वेस्ट मुंबई ) को 2,83,851 रूपयों का लहेंगा का माल और नमन ट्रेडिंग के प्रोपराइटर इशअवर मासुदमल मोटवानी ( निवासी मोतिलाल नगर नुर मस्जिदगर एमडी रोड गोरेगाव मुंबई ) को 10 फरवरी 2020 से 15 फरवरी 2020 तक 3,07,561 रूपये का मिलाकर कुल 5,91,412 का लहेंगा का माल दिलवाया था।

वहीं सार्थक टेक्सटाइल एजेंसी के नाम से दलाली का काम करने वाले दिनेश पंजवाणी ने 4 फरवरी 2020 से 16 जून 2020 तक दुर्गा फैशन के प्रोपराइटर सपनाबेन डांग और उसका पति दुर्ग डांद ( निवासी मजफरनगर उत्तरप्रदेश ) को 20,08,122 रूपये का लहेंगा का माल दिलवाया था। आरोपियों ने पिछले 13 अक्टूबर 2019 से 16 जून 2020 तक अलग अलग बिल चलन से कुल 25,99,534 रूपयों का लहेंगा का माल खरीदा था। विनित बंसल ने सभी माल ट्रांसपोर्ट के जरिये भेजा था। इस दौरान तय किए गए समय मर्यादा में आरोपियों ने पेमेंट नहीं चुकाने पर विनित बंसल ने पेमेंट मांगने पर शुरूआत में पेमेंट चुकाने के झूठे वादे करने के बाद पेमेंट भुगतान से मनाकर जान से मारने की धमकी दी थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button